राजस्थान में विश्व विद्यालय, साहित्य अकादमी, और सांस्कृतिक केन्द्र

राजस्थान में विश्व विद्यालय
1. राज्य का प्रथम विश्व विद्यालय
  • राजस्थान विश्व विद्यालय, जयपुर राज्य का प्रथम विश्व विद्यालय हैं।
  • 8 जून, 1947 को स्थापित उस समय इसका नाम राजपूताना विश्व विद्यालय था।
  • वर्षं 1962 से पहले राजस्थान के समस्त महाविद्यालय इससे सम्बद्ध थे लेकिन अब जयपुर, अलवर, भरतपुर, धौलपुर, सीकर, झुंझुनूं जिलों के कालेज इससे सम्बद्ध हैं।
2. राज्य का प्रथम स्वास्थ्य विश्व विद्यालय - राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्व विद्यालय, जयपुर में 29 नवम्बर, 2004 में स्थापित किया गया।
3. राज्य का प्रथम संस्कृत विश्व विद्यालय – जगदगुरू रामानंदाचार्य राजस्थान संस्कृत विश्व विद्यालय, जयपुर में फरवरी, 2002 में स्थापित
4. राज्य का प्रथम खुला विश्व विद्यालय – वर्द्धमान महावीर खुला विश्व विद्यालय, कोटा में 23 जुलाई 1987 में स्थापित।
  •   21 सितम्बर, 2002 को इसका नाम बदलकर वर्द्धमान महावीर खुला विश्व विद्यालय किया गया।
5. राज्य का प्रथम तकनीकी विश्व विद्यालय - राजस्थान तकनीकी विश्व विद्यालय, कोटा में 2006-07 में स्थापित।
  •   जोधपुर के एमबीएम इंजीनियरिंग काॅलेज के पूर्व अधिष्ठाता डाॅ. दामोदर शर्मां इस विश्व विद्यालय के पहले कुलपति बनाये गयें।
6. कोटा विश्व विद्वद्यालय, कोटा - सन् 2003 में कोटा मं स्थापित
7. प्रथम राष्ट्रीय विधि विश्व विद्यालय - नेशनल ला यूनिवर्सिटी, जोधपुर में 2001-2002 में स्थापित
8. शहर की सीमा तक सीमित एकमात्र विश्व विद्यालय - जयनारायण व्यास विश्व विद्यालय, जोधपुर में सन् 1962 में स्थापित।
  •   जोधपुर में स्थित महाविद्यालयों को ही सम्बद्धता प्रदान करता हैं।
  •   इसको राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद् (नाक) द्वाराश्रेणी प्रदान की गई हैं।
9. राजस्थान आयुर्वेद विश्व विद्यालय, जोधपुर - सन् 2002 में जोधपुर में स्थापित
10. मोहनलाल सुखाड़िया विश्व विद्यालय, उदयपुर - सन् 1962 में उदयपुर में स्थापित, सन् 1963 में उदयपुर विश्व विद्यालय से नाम बदलकर राजस्थान कृषि विश्व विद्यालय किया गया।
  •   करीब 18 वर्षं तक राजस्थान के मुख्यमंत्री रहे मोहनलाल सुखड़िया के नाम पर इस विश्व विद्यालय का नाम रखा गया।
11. महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्व विद्यालय, उदयपुर - सन् 2000 में उदयपुर में स्थापित
12. राजस्थान कृषि विश्व विद्यालय, बीकानेर – सन् 1987 में बीकानेर में स्थापित, उदयपुर के कृषि महाविद्यालयों को छोड़कर राजस्थान के शेष सभी कृषि महाविद्यालय इससे सम्बद्ध हैं।
13. बीकानेर विश्व विद्यालय, बीकानेर - सन् 2003 मैं बीकानेर में स्थापित।
14. महर्षि दयानन्द सरस्वती विश्व विद्यालय, अजमेर - जुलाई, 1987 में स्थापित। वर्तमान में इस विश्व विद्यालय का कार्यक्षेत्र सबसे ज्यादा विस्तृत हैं।


अकादमियां और सांस्कृतिक केन्द्र
क्र..
नाम
स्थापना वर्षं
1.
राजस्थान साहित्य अकादमी, उदयपुर
28.01.1958
2.
राजस्थान भाषा साहित्य एवं संस्कृति अकादमी, बीकानेर
जनवरी, 1993
3.
राजस्थान संगीत नाटक अकादमी, जोधपुर
1957
4.
राजस्थान ललित कला अकादमी, जयपुर
1957
5.
राजस्थान ब्रज भाषा अकादमी, जयपुर
19.01.1986
6.
राजस्थान सिंधी अकादमी, जयपुर
7.
राजस्थान संस्कृत अकादमी, जयपुर
1981
8.
राजस्थान उर्दू अकादमी, जयपुर
1979
9.
राजस्थान हिन्दी ग्रन्थ अकादमी, जयपुर
1969
10.
रवीन्द्र मंच, जयपुर
15.08.1963
11.
जवाहर कला केन्द्र, जयपुर (महानिदेशक )
12.
भारतीय लोक कला मण्डल, उदयपुर
1952
13.
पश्चिम क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र, उदयपुर
1986
14.
जयपुर कथक केन्द्र, जयपुर
1978
15.
नाट्य विभाग (राजस्थान विश्व विद्यालय)
1977
16.
राजस्थान संगीत संस्थान, जयपुर
1950
17.
राजस्थान लोक संस्कृति शोध संस्थान, चुरू
1964
18.
अरबी-फारसी शोध संस्थान, टोंक
1978

राजस्थान में विश्व विद्यालय, साहित्य अकादमी, और सांस्कृतिक केन्द्र

राजस्थान में विश्व विद्यालय
1. राज्य का प्रथम विश्व विद्यालय
  • राजस्थान विश्व विद्यालय, जयपुर राज्य का प्रथम विश्व विद्यालय हैं।
  • 8 जून, 1947 को स्थापित उस समय इसका नाम राजपूताना विश्व विद्यालय था।
  • वर्षं 1962 से पहले राजस्थान के समस्त महाविद्यालय इससे सम्बद्ध थे लेकिन अब जयपुर, अलवर, भरतपुर, धौलपुर, सीकर, झुंझुनूं जिलों के कालेज इससे सम्बद्ध हैं।
2. राज्य का प्रथम स्वास्थ्य विश्व विद्यालय - राजस्थान स्वास्थ्य विज्ञान विश्व विद्यालय, जयपुर में 29 नवम्बर, 2004 में स्थापित किया गया।
3. राज्य का प्रथम संस्कृत विश्व विद्यालय – जगदगुरू रामानंदाचार्य राजस्थान संस्कृत विश्व विद्यालय, जयपुर में फरवरी, 2002 में स्थापित
4. राज्य का प्रथम खुला विश्व विद्यालय – वर्द्धमान महावीर खुला विश्व विद्यालय, कोटा में 23 जुलाई 1987 में स्थापित।
  •   21 सितम्बर, 2002 को इसका नाम बदलकर वर्द्धमान महावीर खुला विश्व विद्यालय किया गया।
5. राज्य का प्रथम तकनीकी विश्व विद्यालय - राजस्थान तकनीकी विश्व विद्यालय, कोटा में 2006-07 में स्थापित।
  •   जोधपुर के एमबीएम इंजीनियरिंग काॅलेज के पूर्व अधिष्ठाता डाॅ. दामोदर शर्मां इस विश्व विद्यालय के पहले कुलपति बनाये गयें।
6. कोटा विश्व विद्वद्यालय, कोटा - सन् 2003 में कोटा मं स्थापित
7. प्रथम राष्ट्रीय विधि विश्व विद्यालय - नेशनल ला यूनिवर्सिटी, जोधपुर में 2001-2002 में स्थापित
8. शहर की सीमा तक सीमित एकमात्र विश्व विद्यालय - जयनारायण व्यास विश्व विद्यालय, जोधपुर में सन् 1962 में स्थापित।
  •   जोधपुर में स्थित महाविद्यालयों को ही सम्बद्धता प्रदान करता हैं।
  •   इसको राष्ट्रीय मूल्यांकन एवं प्रत्यायन परिषद् (नाक) द्वाराश्रेणी प्रदान की गई हैं।
9. राजस्थान आयुर्वेद विश्व विद्यालय, जोधपुर - सन् 2002 में जोधपुर में स्थापित
10. मोहनलाल सुखाड़िया विश्व विद्यालय, उदयपुर - सन् 1962 में उदयपुर में स्थापित, सन् 1963 में उदयपुर विश्व विद्यालय से नाम बदलकर राजस्थान कृषि विश्व विद्यालय किया गया।
  •   करीब 18 वर्षं तक राजस्थान के मुख्यमंत्री रहे मोहनलाल सुखड़िया के नाम पर इस विश्व विद्यालय का नाम रखा गया।
11. महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्व विद्यालय, उदयपुर - सन् 2000 में उदयपुर में स्थापित
12. राजस्थान कृषि विश्व विद्यालय, बीकानेर – सन् 1987 में बीकानेर में स्थापित, उदयपुर के कृषि महाविद्यालयों को छोड़कर राजस्थान के शेष सभी कृषि महाविद्यालय इससे सम्बद्ध हैं।
13. बीकानेर विश्व विद्यालय, बीकानेर - सन् 2003 मैं बीकानेर में स्थापित।
14. महर्षि दयानन्द सरस्वती विश्व विद्यालय, अजमेर - जुलाई, 1987 में स्थापित। वर्तमान में इस विश्व विद्यालय का कार्यक्षेत्र सबसे ज्यादा विस्तृत हैं।


अकादमियां और सांस्कृतिक केन्द्र
क्र..
नाम
स्थापना वर्षं
1.
राजस्थान साहित्य अकादमी, उदयपुर
28.01.1958
2.
राजस्थान भाषा साहित्य एवं संस्कृति अकादमी, बीकानेर
जनवरी, 1993
3.
राजस्थान संगीत नाटक अकादमी, जोधपुर
1957
4.
राजस्थान ललित कला अकादमी, जयपुर
1957
5.
राजस्थान ब्रज भाषा अकादमी, जयपुर
19.01.1986
6.
राजस्थान सिंधी अकादमी, जयपुर
7.
राजस्थान संस्कृत अकादमी, जयपुर
1981
8.
राजस्थान उर्दू अकादमी, जयपुर
1979
9.
राजस्थान हिन्दी ग्रन्थ अकादमी, जयपुर
1969
10.
रवीन्द्र मंच, जयपुर
15.08.1963
11.
जवाहर कला केन्द्र, जयपुर (महानिदेशक )
12.
भारतीय लोक कला मण्डल, उदयपुर
1952
13.
पश्चिम क्षेत्र सांस्कृतिक केन्द्र, उदयपुर
1986
14.
जयपुर कथक केन्द्र, जयपुर
1978
15.
नाट्य विभाग (राजस्थान विश्व विद्यालय)
1977
16.
राजस्थान संगीत संस्थान, जयपुर
1950
17.
राजस्थान लोक संस्कृति शोध संस्थान, चुरू
1964
18.
अरबी-फारसी शोध संस्थान, टोंक
1978